Thursday, 30 January 2020

Short Essay on Morse Code & Telegraph in Hindi

0

Short Essay on Morse Code & Telegraph in Hindi


Short Essay on Morse Code & Telegraph in Hindi

Morse Code & Telegraph – मोर्स कोड एंड टेलीग्राफ – इस यंत्र की खोज 1830 – 1840 के अरसे में हुई | इस Machine से लंबी दुरी का संचार संभव हुआ | इस पद्धति में विद्युत् तार द्वारा दो स्टेशन के बीछ संकेत भेज कर जानकारी साझा की जाती थी | 

Short Essay on Morse Code & Telegraph in Hindi

इस खोज का श्रेय सैमुअल मोर्स और सहियोगी गण को जाता है | इसके बाद सैमुअल नें टेलीग्राफ लाइन द्वारा सरल संदेश आवागमन के लिए मोर्स कोड की भी रचना की थी | 

Short Essay on Morse Code & Telegraph in Hindi
(मोर्स कोड – वर्णमाला और संख्या ओं के लिए = डॉट्स (लघु अंक) और डैश (लंबे अंक) के लिए) | आज हम हाई स्पीड इन्टरनेट और वायरलेस मोबाइल सेवा की सुविधा का आनंद ले रहे हैं, शायद इन सभी विकसित सेवाओं के आविष्कार की निव ऐसी ही किसी खोज पर रखी गयी होगी | (Wiki Link - मोर्स कोड की पूर्ण जानकारी

Related Posts 

Author Image

About PMB
Soratemplates is a blogger resources site is a provider of high quality blogger template with premium looking layout and robust design

No comments:

Post a comment